न आज था न कल था - पति पत्नी और वो (१९७८)

Pati Patni Aur Woh Album Cover

गीत: न आज था न कल था । Na Aaj Tha Na Kal Tha
चित्रपट: पति पत्नी और वो १९७८ | Pati Patni Aur Woh 1978
संगीत: रवींद्र जैन | Ravindra Jain
गीतकार: आनंद बक्षी | Anand Bakshi
स्वर: किशोर कुमार | Kishor Kumar



गीत के बोल:

न आज था, न कल था
कोई मुश्किल थी, न हल था
लेकिन क्या था?
बस एक फल था

ये फल खाना मना है, सब उनसे कहते थे x2
आदम और हव्वा दोनों जन्नत में रहते थे x2

दोनों का दिल ललचाया, उस फल को तोड़ के खाया x2
इक शोला-सा लहराया, उनमें शैतान समाया x2
उनको जो हरगिज़ न करना था, कर बैठे थे... x2
आदम और हव्वा दोनों जन्नत में रहते थे x2

क़ुदरत को ग़ुस्सा आया, दोनों पे जुर्म लगाया
जन्नत में रहने वाले, जन्नत से गये निकाले

ऊपर से गिरे वो नीचे... x2, फल आया पीछे-पीछे...
यूँ सदियों ने दम तोड़ा, फल ने पीछा न छोड़ा x2
कहने वाले यूँ उनका अफ़साना कहते हैं x2
आदम और हव्वा अब इस दुनिया में रहते हैं x2

Post a Comment

मस्त गीत है ...

शुक्रिया श्रीमान दिगम्बर नासवा जी!

This comment has been removed by a blog administrator. -

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget