दिल तो दीवाना है - इश्क़ पर ज़ोर नहीं (१९७०)

इसे सुनिए और रूमानी हो जायिए... यह गीत मैंने जब पहली बार देखा तो जाना कि धर्मेन्द भी रोमान्टिक हीरो हैं। आशा है कि धर्मेन्द्र के लिए आनन्द बक्षी द्वारा लिखा गया यह रूमानी गीत आपका दिल जीत लेगा!



Ishq par zor nahi 1970

गीत: दिल तो दीवाना है | Dil to diwana hai
फ़िल्म: इश्क़ पर ज़ोर नहीं (1970) | Ishq par zor nahi
संगीतकार: एस. डी. बर्मन | Sachin Dev Burman
गायक: मो० रफ़ी, लता मंगेश्कर | Mohammad Rafi, Lata Mangeshkar

लता दी: ये दिल दीवाना है, दिल तो दीवाना है
दीवाना दिल है ये दिल दीवाना
आ हा हा
मो० रफ़ी: आ हा हा
ये दिल दीवाना है, दिल तो दीवाना है
दीवाना दिल है ये दिल दीवाना
दोनों: आ हा हा

लता दी: कैसा बेदर्दी है
कैसा बेदर्दी है, इसकी तो मर्ज़ी है
जब तक जवानी है, ये रुत सुहानी है
नज़रें जुदा ना हों, अरमां ख़फ़ा ना हों
दिलकश बहारों में, छुपके चनारों में
यूं ही सदा हम तुम, बैठे रहें गुमसुम
वो बेवफ़ा जो कहे हमको जाना है
ये दिल
ये दिल दीवाना है, दिल तो दीवाना है
दीवाना दिल है ये दिल दीवाना
दोनों: आ हा हा

मो० रफ़ी: बेचैन रहता है
बेचैन रहता है, चुपके से कहता है
मुझको धड़कने दो, शोला भड़कने दो
काँटों में कलियों में, साजन की गलियों में
फेरा लगाने दो, छोड़ो भी जाने दो
खो तो न जाऊंगा, मैं लौट आऊंगा
देखा सुने समझे अच्छा बहाना है
ये दिल
ये दिल दीवाना है, दिल तो दीवाना है
दीवाना दिल है ये दिल दीवाना
दोनों: आ हा हा

लता दी: सावन के आते ही
सावन के आते ही
मो० रफ़ी: बादल के छाते ही
लता दी: फूलों के मौसम में
मो० रफ़ी: फूलों के मौसम में
दोनों: चलते ही पुरवाई, मिलते ही तन्हाई
उलझा के बातों में, कहता है रातों में
मो० रफ़ी: यादों में खो जाऊं, जल्दी से सो जाऊं
लता दी: क्योंके साँवरिया को सपनों में आना है
ये दिल
मो० रफ़ी: ये दिल
लता दी: ये दिल दीवाना है
मो० रफ़ी: दिल तो दीवाना है
दोनों: दीवाना दिल है ये दिल दीवाना
आ हा हा -२

----

Lata Di: ye dil diivaanaa hai, dil to diivaanaa hai
diivaanaa dil hai ye dil diivaanaa
aa haa haa
Md Rafi: aa haa haa
ye dil diivaanaa hai, dil to diivaanaa hai
diivaanaa dil hai ye dil diivaanaa
Chorus: aa haa haa

Lata Di: kaisaa bedardii hai
kaisaa bedardii hai, isakii to marzii hai
jab tak javaanii hai, ye rut suhaanii hai
nazare.n judaa naa ho.n, aramaa.n Kafaa naa ho.n
dilakash bahaaro.n me.n, chhupake chanaaro.n me.n
yuu.n hii sadaa ham tum, baiThe rahe.n gumasum
vo bevafaa jo kahe hamako jaanaa hai
ye dil
ye dil diivaanaa hai, dil to diivaanaa hai
diivaanaa dil hai ye dil diivaanaa
Chorus: aa haa haa

Md Rafi: bechain rahataa hai
bechain rahataa hai, chupake se kahataa hai
mujhako dha.Dakane do, sholaa bha.Dakane do
kaa.NTo.n me.n kaliyo.n me.n, saajan kii galiyo.n me.n
pheraa lagaane do, chho.Do bhii jaane do
kho to na jaauu.ngaa, mai.n lauT aauu.ngaa
dekhaa sune samajhe achchhaa bahaanaa hai
ye dil
ye dil diivaanaa hai, dil to diivaanaa hai
diivaanaa dil hai ye dil diivaanaa
Chorus: aa haa haa

Lata Di: saavan ke aate hii
saavan ke aate hii
Md Rafi: baadal ke chhaate hii
Lata Di: phuulo.n ke mausam me.n
Md Rafi: phuulo.n ke mausam me.n
Chorus: chalate hii puravaaii, milate hii tanhaaii
ulajhaa ke baato.n me.n, kahataa hai raato.n me.n
Md Rafi: yaado.n me.n kho jaauu.n, jal_dii se so jaauu.n
Lata Di: kyo.nke saa.Nvariyaa ko sapano.n me.n aanaa hai
ye dil
Md Rafi: ye dil
Lata Di: ye dil diivaanaa hai
Md Rafi: dil to diivaanaa hai
Chorus: diivaanaa dil hai ye dil diivaanaa
aa haa haa -2

Post a Comment

bada achha blog banaaya aapne...yahaan aate rahenge :)

मेरा पसंदीदा गाना है और सारा याद भी है , यहाँ सुनाने के लिए आभार ...
" सावन के आते ही, बदल के छाते ही,
उल्जा के बातों मे ..."

regards

अजी आप तो हमे पुरानी यादो मे लेजा रहे है, बहुत सुंदर गीत सुनाने के लिये धन्यवाद

बहुत ही सुनदर गाना है..और मेरा पसंदीदा भी

शुक्रिया! दोस्तों... कुछ और बेहतर नग़में लेकर रोज़ पेश हूँगा

"नव वर्ष २००९ - आप सभी ब्लॉग परिवार और समस्त देश वासियों के परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं "

regards

सीमा जी आपको भी नववर्ष की शुभकामनाएँ!

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget