प्यार करने वाले कभी डरते नहीं - हीरो (१९८३)

गीत: प्यार करने वाले कभी डरते नहीं । Pyar Karne Wale Kabhi Darte Nahin
स्वर: लता मंगेश्कर और मनहर उधास । Lata Mangeshkar, Manhar Udhas
गीतकार: आनन्द बक्षी । Anand Bakshi
फ़िल्म: हीरो (1983) । Hero
संगीत: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल । Laxmikant Pyarelal
कलाकार: जैकी श्राफ़, मीनाक्षी सेशाद्री । Jackie Shroff & Meenakshi Seshadri



गीत के बोल -
लोगों से सुना है किताबों में लिखा है
सब ने यही कहा है सब ने यही कहा है
प्यार करने वाले कभी डरते नहीं
जो डरते हैं वो प्यार करते नहीं

लम्बी दीवारें चुनवा दो लाख बिठा दो पहरे
रस्ते में बिछा दो ऊँचे पर्वत सागर गहरे
तूफ़ाँ कब रुकते हैं बादल जब झुकते हैं
तारे कह उठते हैं सारे कह उठते हैं
प्यार करने वाले कभी डरते नहीं ...

प्यार छुपे न खुशबू ये एलान कहो तो कर दूँ
चुटकी भर सिन्दूर मँगा दे माँग में तेरी भर दूँ
दुनिया क्या कर लेगी दुनिया से कहेगी
बस कहती ही रहेगी, बस कहती ही रहेगी
प्यार करने वाले कभी डरते नहीं ...

Roman Hindi -
logo.n se sunaa hai kitaabo.n me.n likhaa hai
sab ne yahii kahaa hai sab ne yahii kahaa hai
pyaar karane vaale kabhii Darate nahii.n
jo Darate hai.n vo pyaar karate nahii.n

lambii diivaare.n chunavaa do laakh biThaa do pahare
raste me.n bichhaa do uu.Nche parvat saagar gahare
tuufaa.N kab rukate hai.n baadal jab jhukate hai.n
taare kah uThate hai.n saare kah uThate hai.n
pyaar karane vaale kabhii Darate nahii.n ...

pyaar chhupe na khushabuu ye elaan kaho to kar duu.N
chuTakii bhar sinduur ma.Ngaa de maa.Ng mae.n terii bhar duu.N
duniyaa kyaa kar legii duniyaa se kahegii
bas kahatii hii rahegii, bas kahatii hii rahegii
pyaar karane vaale kabhii Darate nahii.n ...

Post a Comment

विनय जी, नमस्कार !
आनंद बक्षीजी के बारे में इतनी तफ्सील से जानकारी
देने के लिए शुक्रिया और ढेरों मुबारकबाद.....
क्या वो गीत सुनने को मिल पायेगा... (बागों में बहार आई...)
लताजी के साथ गया हुआ दोगाना...?
और 'महबूब की मेहंदी' के गीत भी तो बक्षी साहब के ही है न...?
खैर ! बहुत अच्छा लगा सब पढ़ कर ....
---मुफलिस---

कोशिश जारी है ऐसे रेयर गानों को ब्लॉग पर शामिल करने की!

bhai ye to mahaan lekhak hain aur ubke shabdon ko blog ke madhyam se bhejana achha kaam hai

ek gujarish hai aap ne lokgeeton, kavitaon ki ek website banayee hai....usme ek lokgeet hai garhwali.....he uchi dandiyon...jisme lekhak agyat hai kripaya us ke lekhak Shri mahimnand mamgain ji hain....use correct karen

@Aaj ka pahad जी, धन्यवाद, लेकिन मैंने लोक गीतों की कोई साइट नहीं बनायी है!

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget