अपना है तू बेग़ाना नहीं - मेहबूब की मेहंदी १९७१

Mehboob Ki Mehndi 1971
गीत: अपना है तू बेग़ाना नहीं । Apna Hai Tu Begana Nahin
चित्रपट: मेहबूब की मेहंदी १९७१ । Mehboob Ki Mehndi 1971
संगीत: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल । Laxmikant Pyarelal
गीतकार: आनंद बक्षी | Anand Bakshi
स्वर: मोहम्मद रफ़ी | Md Rafi



गीत के बोल:

अपना है तू बेग़ाना नहीं, मैंने तुझे पहचाना नहीं
ये सच हैं अफ़साना नहीं, मैंने तुझे पहचाना नहीं

आँखें न जाने दिल जानता है
रंग लहू का लहू पहचानता है
ये पर्दा उठ जाये, शायद याद आ जाये
रुक जा जरा अभी जाना नहीं

जब देखूँ तुझको लगता है ऐसे
तू मेरे दिलका कोई टुकड़ा है जैसे
बाते हैं बेगानी नज़रें हैं अन्जानी
चेहरा मगर अन्जाना नहीं

बस ख़त्म होती है ये कहानी
में दे चला हूँ तुझे अपनी निशानी
दिल को ना तड़पाना, मुझको भूल ना जाना
लेकिन मुझे याद आना नहीं

अपना हूँ मैं बेग़ाना नहीं, तूने मुझे पहचाना नहीं

Roman Hindi Lyrics:


Post a Comment

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget