October 2015

Aaradhana 1969 Sachin Dev Barman
गीत: रूप तेरा मस्ताना, प्यार मेरा दीवाना । Roop Tera Mastana, Pyar Mera Deewana
चित्रपट: आराधना १९६९ | Aaradhana 1969
संगीत: सचिन देव बर्मन । Sachin Dev Barman
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: किशोर कुमार । Kishor Kumar

संस्करण १:


संस्करण २:


संस्करण ३:


गीत के बोल:

रूप तेरा मस्ताना, प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हम से ना हो जाए

रात नशीली, मस्त समां है
आज नशे में, सारा जहां है
हाय, शराबी मौसम बहकाए

आँखों से आँखे, मिलती हैं ऐसे
बेचैन हो के, तूफ़ान में जैसे
मौज कोई साहिल से टकराए

रोक रहा है, हमको ज़माना
दूर ही रहना, पास ना आना
कैसे मगर कोई दिल को समझाए

Roman Hindi Lyrics:


roop teraa mastaanaa, pyaar meraa deewaanaa
bhool koi ham se naa ho jaae

raat nasheelee, mast samaan hai
aaj nashe men, saaraa jahaan hai
haay, sharaabee mausam bahakaae

aaankhon se aaankhe, milatee hain aise
bechain ho ke, toofaan men jaise
mauj koi saahil se takaraae

rok rahaa hai, hamako jmaanaa
door hee rahanaa, paas naa aanaa
kaise magar koi dil ko samajhaae

Devar 1966
गीत: आया है मुझे फिर याद वो ज़ालिम । Aaya Hai Mujhe Phir Yaad Wo Zalim
चित्रपट: देवर १९६६ | Devar 1966
संगीत: रोशन । Roshan
गीतकार: आनंद बक्षी | Anand Bakshi
स्वर: मुकेश । Mukesh



गीत के बोल:

आया है मुझे फिर याद वो ज़ालिम
गुज़रा ज़माना बचपन का
हाए रे अकेले छोड़ के जाना
और ना आना बचपन का

वो खेल, वो साथी, वो झूले
वो दौड़ के कहना, आ छू ले
हम आज तलक भी ना भूले वो
ख्वाब सुहाना बचपन का

इस की सब को पहचान नहीं
ये दो दिन का मेहमान नहीं
मुश्किल है बहोत आसान नहीं ये
प्यार भूलाना बचपन का

मिलकर रोयें, फ़रियाद करें
उन बीते दिनों की याद करें
ऐ काश कहीं, मिल जाये कोई जो
मीत पुराना बचपन का

Roman Hindi Lyrics:

aayaa hai mujhe phir yaad wo zaalim
gujraa zamaanaa bachapan kaa
haae re akele chhod ke jaanaa
aur naa aanaa bachapan kaa

wo khel, wo saathee, wo jhoole
wo daud ke kahanaa, aa chhoo le
ham aaj talak bhee naa bhoole wo
khwaab suhaanaa bachapan kaa

is kee sab ko pahachaan naheen
ye do din kaa mehamaan naheen
mushkil hai bahot aasaan naheen ye
pyaar bhoolaanaa bachapan kaa

milakar royen, fariyaad karen
un beete dinon kee yaad karen
ai kaash kaheen, mil jaaye koi jo
meet puraanaa bachapan kaa

Mr X in Bombay 1964

गीत: ख़ूबसूरत हसीना, जान-ए-जाँ | Khoobsoorat Haseena Jane-jaan
चित्रपट: मि. एक्स इन बॉम्बे १९६४ | Mr X in Bombay 1964
संगीत: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल । Laxmikant Pyarelal
गीतकार: आनंद बक्षी | Anand Bakshi
स्वर: लता मंगेश्कर, किशोर कुमार | Lata Mangeshkar, Kishor Kumar



गीत के बोल:

ख़ूबसूरत हसीना, जान-ए-जाँ, जान-ए-मन
रंग जिस के लबों का ढूंढता हैं चमन
तू नहीं, तू नहीं, वो हसीं तो सनम कोई और ही है

ख़ूबसूरत दीवाना, जान-ए-जाँ, जान-ए-मन
सुन के जिस के फ़साने, झूम उठा मेरा मन
तू नहीं, तू नहीं, वो हसीं तो सनम कोई और ही है

कल वो मिली थी, तो शब बातों में ढली थी
मुझे छेड़ो न ऐसे, बता दो कौन थी वो
नाज़ों पली थी, वो शबनम थी या कली थी
जैसी, वो थी, वैसी तू नहीं, तू नहीं, वो हसीं तो सनम कोई और ही है

ख्वाबों में अक्सर वो आने जाने लगा है
ओ चलो छोड़ो रहने दो, नहींं ये दिल्लगी अच्छी
इस दिल्लगी में ये दिल जल जाने लगा है
कैसे कह दूँ, तू है, तू नहीं, तू नहींं वो हसीं तो सनम कोई और ही है

झूमे नज़ारे, अगर वो ज़ुल्फे सँवारे
मेरा दिल ना जला सुन ले, मेरे बदले उसे चुन ले
समझी नहींं तू, तेरी जानिब हैं इशारे
हाँ हाँ, तू ही हैं वो, तू नहीं, तू नहीं, वो हसीं तो सनम तेरा प्यार है

Roman Hindi Lyrics:

khoobsoorat haseena, jaan-e-jaan, jaan-e-man
rang jis ke labon kaa dhoondhataa hai chaman
too nahin, too nahin, wo haseen to sanam koi aur hee hai

khoobsoorat deewaanaa, jaan-e-jaan, jaan-e-man
sun ke jis ke fasaane, jhoom uthhaa meraa man
too nahin, too nahin, wo haseen to sanam koi aur hee hai

kal wo milee thee, to shab baaton men dhalee thee
mujhe chhedo na aise, bataa do kaun thee wo
naazon palee thee, wo shabanam thee yaa kalee thee
jaisee, wo thee, waisee too nahin, too nahin, wo haseen to sanam koi aur hee hai

khwaabon men aksar wo aane jaane lagaa hai
o chalo chhodo rahane do, nahinn ye dillagee achchhee
is dillagee men ye dil jal jaane lagaa hai
kaise kah dooan, too hai, too nahin, too nahinn wo haseen to sanam koi aur hee hai

jhoome nazaare, agar wo zulfen sanwaare
meraa dil naa jalaa sun le, mere badale use choon le
samajhee nahinn too, teree jaanib hai ishaare
haan haan, too hee hai wo, too nahin, too nahin, wo haseen to sanam teraa pyaar hai

Jeene Ki Raah 1969
गीत: आने से उसके आये बहार । Aane Se Uske Aaye Bahaar
चित्रपट: जीने की राह १९६९ । Jeene Ki Raah 1969
संगीत: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल । Laxmikant Pyarelal
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: मोहम्मद रफ़ी । Md Rafi



गीत के बोल:

आने से उसके आये बहार
जाने से उसके जाये बहार
बड़ी मस्तानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

गुनगुनाये ऐसे जैसे बजते हो घुंघरू कहीं पे
आके परबतों से जैसे गिरता हो झरना जमीं पे
झरनों की मौज है वो, मौजों की रवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

बन सँवर के निकले, आये सावन का जब जब महीना
हर कोई ये समझे, होगी वो कोई चंचल हसीना
पूछो तो कौन है वो, रुत ये सुहानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी, मेरी मेहबूबा

इस घटा को मैं तो उसकी आँखों का काजल कहूँगा
इस हवा को मैं तो उसका लहराता आँचल कहूँगा
कलियों का बचपन है, फूलों की जवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

बीत जाते हैं दिन, कट जाती हैं आँखों में रातें
हम न जाने क्या क्या, करते रहते हैं आपस में बातें
मैं थोड़ा दीवाना, थोड़ी-सी दीवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

सामने मैं सब के नाम उसका नहीं ले सकूँगा
वो शरम के मारे रूठ जाए तो मैं क्या करूँगा
हुरों की मलिका है, परियों की रानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

Roman Hindi Lyrics:


aane se us ke aae bahaar
jaane se us ke jaae bahaar
badee mastaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

gunagunaae aise jaise bajate ho ghungaru kahee pe
aake parabaton se jaise girataa ho jharanaa jameen pe
jharanon kee mauj hai wo, maujon kee rawaani hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

ban sanwar ke nikale, aae saawan kaa jab jab maheenaa
har koi ye samajhe, hogee wo koi chnchal haseenaa
poochho to kaun hai wo, rut ye suhaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

is ghataa ko main to usakee aankhon kaa kaajal kahooangaa
is hawaa ko main to usakaa laharaataa aanchal kahooangaa
kaliyon kaa bachapan hai, foolon kee jawaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

beet jaate hain din, kat jaatee hain aankhon men raaten
ham naa jaane kyaa kyaa, karate rahate hain aapas men baaten
main thodaa deewaanaa, thodeesee deewaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

saamane main sab ke naam usakaa nahee le sakooangaa
wo sharam ke maare ruthh jaae to main kyaa karooangaa
huronkee malikaa hai, pareeyon kee raanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

जुआरी १९६८ । Juari 1968
गीत: नींद उड़ जाये तेरी । Neend Ud Jaye Teri
चित्रपट: जुआरी १९६८ । Juari 1968
संगीत: कल्याणजी आनंदजी । Kalyanji Anandji
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: मुबारक बेग़म, सुमन कल्याणपूर, कृष्णा बोस । Mubarak Begum, Suman Kalyanpur, Krishna Bose



गीत के बोल:

ये रात कितनी तमन्ना साथ लायी हैं
गज़ब खुदा का सितमगर को निंद आयी हैं

नींद उड़ जाये तेरी चैन से सोने वाले
ये दुआ मांगते हैं नैन ये रोने वाले

मैंने किया इन ज़ुल्फ़ों का साया
तेरे लिया आँखों में काजल लगाया
दिल ने धड़क के दी आवाजें
तुझे नहीं आना था तू नहीं आया
मेरे आँखों के काजल को अश्क़ हैं धोने वाले

मैने की हैं जफ़ाएँ, मुझसे क्यों हो वफ़ाएँ
लग गयी मुझको मेरे प्यार की बददुआएँ
तू वफ़ा करता हम तो थे बेवफ़ा होने वाले

कोई तुझ पे तोहमत धरने नहीं दी
दिल को शिक़ायत करने नहीं दी
कर लिया दिल का ख़ून भी हमने
आँख सितमगर भरने नहीं दे
आज लेकिन न मानेंगे रोयेंगे रोने वाले

Roman Hindi Lyrics:


ye raat kitanee tamannaa saath laayee hain
gajb khudaa kaa sitamagar ko nind aayee hain

neend ud jaaye teree chain se sonewaale
ye duaaaein maangate hain nain ye ronewaale

maine kiyaa in julfon kaa saayaa
tere liyaa aaankho men kaajal lagaayaa
dil ne dhadak ke dee aawaajen
tujhe nahee aanaa thaa too nahee aayaa
mere aaankhon ke kaajal ko ashk hain dhonewaale

maine kee hain jafaaye, mujhase kyon ho wafaaye
lag gayee mujhako mere pyaar kee badaduaaye
too wafaa karataa ham to the bewafaa honewaale

koi tujh pe tohamat dharane nahee dee
dil ko shikaayat karane nahee dee
kar liyaa dil kaa khoon bhee hamane
aaankh sitamagar bharane nahee de
aaj lekin naa maanenge royenge ronewaale

श्रीमान फंटूश १९६५ Shreeman Fantoosh 1965
गीत: ये दर्द भरा अफ़साना । Ye Dard Bhara Afsana
चित्रपट: श्रीमान फंटूश १९६५ | Shreeman Fantoosh 1965
संगीत: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल | Laxmikant Pyarelal
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: किशोर कुमार । Kishor Kumar



गीत के बोल:

ये दर्द भरा अफ़साना
सुन ले अन्जान ज़माना ज़माना
मैं हूँ एक पागल प्रेमी
मेरा दर्द ना कोई जाना

कोई भी वादा, याद न आया
कोई क़सम भी, याद न आई
मेरी दुहाई, सुन ले खुदाई
मेरे सनम ने की बेवफ़ाई
दिल टूट गया, दीवाना

फूलों से मैंने दामन बचाया
राहों में अपनी काँटें बिछाए
मैं हूँ दीवाना, दीवानगी ने
एक बेवफा से नेहा लगाए
जो प्यार को ना पहचाना

यादें पुरानी, आने लगी क्या
आँखें झुका ली ,क्या दिल में आया
देखो नज़ारा, दिलबर हमारा
कैसी हमारी, महफ़िल में आया
है साथ कोई, बेग़ाना...

Roman Hindi Lyrics:

ye dard bharaa afasaanaa
sun le anjaan jmaanaa jmaanaa
main hooan ek paagal premee
meraa dard naa koi jaanaa

koi bhee waadaa, yaad n aayaa
koi kasam bhee, yaad n aai
meree duhaai, sun le khudaai
mere sanam ne kee bewafaai
dil toot gayaa, deewaanaa

foolon se mainne daaman bachaayaa
raahon men apanee kaaanten bichhaae
main hooan deewaanaa, deewaanagee ne
ek bewafaa se nehaa lagaae
jo pyaar ko naa pahachaanaa

yaaden puraanee, aane lagee kyaa
aaankhen jhukaa lee ,kyaa dil men aayaa
dekho najaaraa, dilabar hamaaraa
kaisee hamaaree, mahafil me aayaa
hai saath koi, begaanaa

सनी १९८४ । Sunny 1984

गीत: जाने क्या बात है | Jaane Kya Baat Hai
चित्रपट: सनी १९८४ । Sunny 1984
संगीत: राहुलदेव बर्मन । Rahuldev Burman
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: लता मंगेशकर । Lata Mangeshkar



गीत के बोल:

जाने क्या बात है, जाने क्या बात है
नींद नहीं आती बड़ी लंबी रात है

धक धक अभी से जिया डोल रहा है
घूंघट अभी से मेरा खोल रहा है
दूर अभी तो पिया की मुलाक़ात है

जब जब देखूं मैं ये चांद सितारे
ऐसा लगता है मुझे लाज के मारे
जैसे कोई डोली, जैसे बारात है

Roman Hindi Lyrics:

aane kyaa baat hai, jaane kyaa baat hai
neend naheen aatee baree lnbee raat hai

dhak dhak abhee se jiyaa dol rahaa hai
ghoonghat abhee se meraa khol rahaa hai
door abhee to piyaa kee mulaaqaat hai

jab jab dekhoo main ye chaand sitaaren
aisaa lagataa hai mujhe laaj ke maare
jaise koi dolee, jaise baaraat hai

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget