आने से उसके आये बहार - जीने की राह १९६९

Jeene Ki Raah 1969
गीत: आने से उसके आये बहार । Aane Se Uske Aaye Bahaar
चित्रपट: जीने की राह १९६९ । Jeene Ki Raah 1969
संगीत: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल । Laxmikant Pyarelal
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: मोहम्मद रफ़ी । Md Rafi



गीत के बोल:

आने से उसके आये बहार
जाने से उसके जाये बहार
बड़ी मस्तानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

गुनगुनाये ऐसे जैसे बजते हो घुंघरू कहीं पे
आके परबतों से जैसे गिरता हो झरना जमीं पे
झरनों की मौज है वो, मौजों की रवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

बन सँवर के निकले, आये सावन का जब जब महीना
हर कोई ये समझे, होगी वो कोई चंचल हसीना
पूछो तो कौन है वो, रुत ये सुहानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी, मेरी मेहबूबा

इस घटा को मैं तो उसकी आँखों का काजल कहूँगा
इस हवा को मैं तो उसका लहराता आँचल कहूँगा
कलियों का बचपन है, फूलों की जवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

बीत जाते हैं दिन, कट जाती हैं आँखों में रातें
हम न जाने क्या क्या, करते रहते हैं आपस में बातें
मैं थोड़ा दीवाना, थोड़ी-सी दीवानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

सामने मैं सब के नाम उसका नहीं ले सकूँगा
वो शरम के मारे रूठ जाए तो मैं क्या करूँगा
हुरों की मलिका है, परियों की रानी है, मेरी मेहबूबा
मेरी ज़िंदगानी है, मेरी मेहबूबा

Roman Hindi Lyrics:


aane se us ke aae bahaar
jaane se us ke jaae bahaar
badee mastaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

gunagunaae aise jaise bajate ho ghungaru kahee pe
aake parabaton se jaise girataa ho jharanaa jameen pe
jharanon kee mauj hai wo, maujon kee rawaani hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

ban sanwar ke nikale, aae saawan kaa jab jab maheenaa
har koi ye samajhe, hogee wo koi chnchal haseenaa
poochho to kaun hai wo, rut ye suhaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

is ghataa ko main to usakee aankhon kaa kaajal kahooangaa
is hawaa ko main to usakaa laharaataa aanchal kahooangaa
kaliyon kaa bachapan hai, foolon kee jawaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

beet jaate hain din, kat jaatee hain aankhon men raaten
ham naa jaane kyaa kyaa, karate rahate hain aapas men baaten
main thodaa deewaanaa, thodeesee deewaanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

saamane main sab ke naam usakaa nahee le sakooangaa
wo sharam ke maare ruthh jaae to main kyaa karooangaa
huronkee malikaa hai, pareeyon kee raanee hai, meri mehbooba
meri zindagaani hai, meri mehbooba

Post a Comment

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget