नींद उड़ जाये तेरी चैन से सोने वाले - जुआरी १९६८

जुआरी १९६८ । Juari 1968
गीत: नींद उड़ जाये तेरी । Neend Ud Jaye Teri
चित्रपट: जुआरी १९६८ । Juari 1968
संगीत: कल्याणजी आनंदजी । Kalyanji Anandji
गीतकार: आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: मुबारक बेग़म, सुमन कल्याणपूर, कृष्णा बोस । Mubarak Begum, Suman Kalyanpur, Krishna Bose



गीत के बोल:

ये रात कितनी तमन्ना साथ लायी हैं
गज़ब खुदा का सितमगर को निंद आयी हैं

नींद उड़ जाये तेरी चैन से सोने वाले
ये दुआ मांगते हैं नैन ये रोने वाले

मैंने किया इन ज़ुल्फ़ों का साया
तेरे लिया आँखों में काजल लगाया
दिल ने धड़क के दी आवाजें
तुझे नहीं आना था तू नहीं आया
मेरे आँखों के काजल को अश्क़ हैं धोने वाले

मैने की हैं जफ़ाएँ, मुझसे क्यों हो वफ़ाएँ
लग गयी मुझको मेरे प्यार की बददुआएँ
तू वफ़ा करता हम तो थे बेवफ़ा होने वाले

कोई तुझ पे तोहमत धरने नहीं दी
दिल को शिक़ायत करने नहीं दी
कर लिया दिल का ख़ून भी हमने
आँख सितमगर भरने नहीं दे
आज लेकिन न मानेंगे रोयेंगे रोने वाले

Roman Hindi Lyrics:


ye raat kitanee tamannaa saath laayee hain
gajb khudaa kaa sitamagar ko nind aayee hain

neend ud jaaye teree chain se sonewaale
ye duaaaein maangate hain nain ye ronewaale

maine kiyaa in julfon kaa saayaa
tere liyaa aaankho men kaajal lagaayaa
dil ne dhadak ke dee aawaajen
tujhe nahee aanaa thaa too nahee aayaa
mere aaankhon ke kaajal ko ashk hain dhonewaale

maine kee hain jafaaye, mujhase kyon ho wafaaye
lag gayee mujhako mere pyaar kee badaduaaye
too wafaa karataa ham to the bewafaa honewaale

koi tujh pe tohamat dharane nahee dee
dil ko shikaayat karane nahee dee
kar liyaa dil kaa khoon bhee hamane
aaankh sitamagar bharane nahee de
aaj lekin naa maanenge royenge ronewaale

Post a Comment

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget