गुन गुना रहे है भँवरे - आराधना १९६९

गीत: गुन गुना रहे है भँवरे | Gunguna Rahe Hain Bhanware
चित्रपट:आराधना १९६९ | Aaradhana 1969
संगीत:सचिन देव बर्मन । Sachin Dev Barman
गीतकार:आनंद बक्षी । Anand Bakshi
स्वर: मोहम्मद रफ़ी, आशा भोंसले | Md Rafi, Asha Bhosle



आडियो गीत:


गीत के बोल:


गुन गुना रहे हैं भँवरे, खिल रही है कली कली x2
गली गली कली कली, गुन गुना रहे हैं...

ज़रा देखो सजन बईमान भौरा कैसे मुस्काये
हाय कली यूँ शर्माये, घूँघट मे जैसे कोई छुप जाये x2

रितु ऐसी, हाय कैसी ये पवन चली गली गली
गुन गुना रहे हैं भँवरे खिल रही है कली कली x2
गली गली कली कली, गुन गुना रहे...

किसी को क्या कहे हम दोनों भी हैं देखो कुछ खोये
खोये हुये क्या ओए ओए जागे जिया में अरमान सोये
सोये किसी को... खोये हुए क्या...

रितु ऐसी हाय कैसी ये पवन चली गली गली
गुनगुना रहें... गली गली... कली कली गुनगुना रहें...

सुनो पास न आओ, कलियों के बहाने प्यार न जताओ
जाओ चलो बात ना बनाओ, भँवरे के बहाने आँख ना लड़ाओ x2

रितु ऐसी हाय कैसी ये पवन चली गली गली
गुन गुना रहे हैं भँवर खिल रही है कली कली x2
गली गली कली कली, गुन गुना रहे हैं...

Roman Hindi Lyrics:


Coming soon...

Post a Comment

[disqus][blogger]

Editor

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget