बड़ी लम्बी जुदाई - हीरो (१९८३)

हीरो(1983) फ़िल्म से यह गीत तो आप सबको याद होगा, यह गीत आनन्द साहब ने लिखा दर्द बयाँ करने में आज तक इस गीत के जैसा गीत कोई दूसरा नहीं जो हर स्तर के मन: स्थिति को आसानी से समझ आ जाता हो, आनन्द साहब की कलम से जब दर्द भरे हर्फ़ उतरे, दिल की गहराई में छुपे दर्द की परतों को उकरेने लगे... सलाम आनन्द साहब

गीत: बड़ी लम्बी जुदाई । Badi Lambi Judaai
स्वर: रेशमा | Reshma
गीतकार: आंनद बक्षी | Anand Bakshi
फ़िल्म: हीरो (1983) । Hero 1983 Film
संगीत: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल | Laxmikant-Pyarelal



Hero 1983 Film Subhash Ghai

गीत के बोल:

बिछड़े अभी तो हम
बस कल परसों
जियूंगी मैं कैसे
इस हाल में बरसों
मौत ना आये तेरी याद क्यों आये?
हाय, लम्बी जुदाई

चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई
होंठों पे आये, मेरी जान, दुहाई
हाय, लम्बी जुदाई
चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई

एक तो सजन मेरे पास नहीं रे
दूजे मिलन दी कोई आस नहीं रे - २
उसपे ये सावन आया - २
आग लगाने
हाय, लम्बी जुदाई
चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई

बाग उजड़ गये, बाग उजड़ गये खिलने से पहले
पंछी बिछड़ गये मिलने से पहले - २
कोयल की कूक, कोयल की कूक ने हूक उठायी
हाय, लम्बी जुदाई
चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई
होंठों पे आये, मेरी जान, दुहाई
हाय, लम्बी जुदाई

टूटे ज़माने तेरे हाथ निगोड़े, हाथ निगोड़े
दिल से दिलों की तूने शीशे तोड़े, शीशे तोड़े
हिज्र की ऊँची, हिज्र की ऊँची दीवार बनायी
हाय, लम्बी जुदाई
चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई

चार दिनों का प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई
लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई

8 comments:

  1. " हीरो फ़िल्म का मीनाक्षी पर फिल्माया ये गीत सच मे लाजवाब है यहाँ सुनाने के लिए आभार.."

    Regards

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छा लगता है यह गाना इसको सुनवाने का शुक्रिया

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपकी पसंद के और भी गीत आते रहेंगे

      Delete
  3. बहुत सुंदर लगा यह गीत, लेकिन हर शब्द पर रुक रुक कर चला, लेकिन हम ने भी इसे पुरा सुना.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. राज जी कैशे प्राब्लम होगी, एक बार सुनने के बाद उसी समय पुन: चलते तो यह समस्या नहीं होती, चलिए यह तरीक़ा फिर कभी आज़मा लीजिएगा, धन्यवाद!

      Delete
  4. bahut time baad phir ye song sunkar bahut achha laga...thanx dost

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया अरविन्द साहिब!

      Delete