तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन - एक-दूजे के लिए (१९८१)

आदमी मुसाफ़िर के बाद यह वह दूसरा गीत रहा जिसने आनन्द साहब की शोहरत में चार चाँद लगा दिये और उन्होंने दूसरी बार फ़िल्मफ़ेयर (filmfare) पुरस्कार जीत लिया। इतना ख़ूबसूरत प्रेम गीत है कि जब सुनिए दिल का रोम-रोम महक उठता है।



गीत: एक-दूजे के लिए । Ek Duuje Ke Liye
फ़िल्म: एक-दूजे के लिए (1981) | Ek Duuje Ke Liye
संगीतकार: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल | Laxmikant Pyarelal
स्वर: लता मंगेश्कर, एस पी बालासुब्राह्मण्यम | Lata Mangeshkar

गीत के बोल:

लता: ओ, तेरे मेरे बीच में -२
कैसा है यह बन्धन अंजाना -३
मैंने नहीं जाना, तूने नहीं जाना -२
तेरे मेरे बीच में ...
एक डोर खींचे दूजा दौड़ा चला आए -२
कच्चे धागे में बंधा चला आए ऐसे जैसे कोई ...
ऐसे जैसे कोई, दीवाना -२
मैंने नहीं जाना,
तूने नहीं जाना तेरे मेरे बीच में ...

एस. पी. बालासुब्रामण्यम: हो हो आपड़िया

लता:
हा हा जैसे सब समझ गया
पहनूँगी मैं तेरे हाथों से कंगना -२
जाएगी मेरी डोली तेरे ही अंगना चाहे कुछ कर ले ...
चाहे कुछ कर ले, ज़माना -२
मैंने नहीं जाना, तूने नहीं जाना तेरे मेरे बीच में ...

एस. पी. बालासुब्रामण्यम:
नी रुम्बा अड़गा इरुक्के

लता:
रुम्बा? ये रुम्बा-रुम्बा क्या है?
इतनी ज़ुबानें बोलें लोग हमजोली -२
दुनिया में प्यार की एक है बोली
बोले जो शमा ... बोले जो शमा, परवाना -२
मैंने नहीं जाना, तूने नहीं जाना

एस. पी. बालासुब्रामण्यम:
परवा इल्लये नल्ला पादरा

लता: क्या?
कैसा है यह बन्धन अंजाना मैंने नहीं जाना, तूने नहीं जाना
तेरे मेरे बीच में ...

Slow Version...
तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बन्धन अन्जाना
मैं ने नहीं जाना, तू ने नहीं जाना

एक डोर खींचे दूजा दौड़ा चला आए -२
कच्चे धागे में बंधा चला आए
ऐसे जैसे कोई ...
ऐसे जैसे कोई, दीवाना -२
मैंने नहीं जाना, तूने नहीं जाना
तेरे मेरे बीच में ...

नींद न आये मुझे चैन न आये
लाख जतन कर रोक न पाये
सपनों में तेरा
ओ, सप्नों में तेरा आना जाना
मैं ने नहीं जाना, तू ने नहीं जाना
तेरे मेरे बीच में ...

4 comments:

  1. bahut khoobsurat. ek anjana aakarsan hai isme, ek aisi mohini shakti hai jo sabhi sunane walon ko suron ke bandhan me bandh leti hai.

    ReplyDelete
  2. यह मेरा पसंदीदा गीत है

    -- मधूप

    ReplyDelete