यह खिड़की जो बंद रहती है - मैं तुलसी तेरे आँगन की (१९७८)

मेरी दुश्मन है ये मेरी उलझन है ये बड़ा तड़पाती है दिल को तरसाती है ये खिड़की जो बन्द रहती है मोहम्मद रफ़ी मैं तुलसी तेरे आँगन की लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल

बहुत सरल-सा गीत है जिसे मो. रफ़ी ने गाया है जो किसी को एहसास दिलाता है कि प्यार की मुश्किलें सब आसान हो जायेंगी और आपकी प्रेमिका जो छुपने का झूठा नाटक कर रही है उसे आपके प्रेम की ख़ातिर वह ख़त्म ही करना पड़ेगा। बहुत कर्णप्रिय गीत-संगीत है आप भी सुनिए!



स्वर: मोहम्मद रफ़ी । Mohd. Rafi
गीतकार: आनन्द बक्षी | Anand Bakshi
फ़िल्म: मैं तुलसी तेरे आँगन की (1978) | Main Tulsi Tere Angan Ki (1978)
संगीत: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल | Laxmikant-Pyarelal

गीत के बोल:

मेरी दुश्मन है ये मेरी उलझन है ये
बड़ा तड़पाती है दिल को तरसाती है
ये खिड़की
ये खिड़की
जो बन्द रहती है
जो बन्द रहती है
मेरी दुश्मन है ये …

लगता है मेला न जाने कहाँ
आशिक़ जमा होते हैं जहाँ
अरे सबको पता है ये दास्ताँ
इस घर में है एक लड़की जवाँ
आँखें झुका के गुज़रो इस गली से
आने-जाने वालों से कहती है
ये खिड़की जो बन्द …

ग़म की घटा है ये छट जाएगी
आहों से दीवार फट जाएगी
जब सामने से ये हट जाएगी
घूँघट में गोरी सिमट जाएगी
इक रोज़ गिर जाएगी टूट के ये
कितने नज़रों के तीर सहती है
ये खिड़की जो बन्द …

आए कभी चौबारे पे वो
कुछ सोचे मेरे बारे में वो
अरे बातें करे दो इशारे में वो
चुप सी खड़ी है उस किनारे पे वो
उस पार वो है और इस पार मैं हूँ
नदिया बीच में बहती है
ये खिड़की जो बन्द …

Roman Hindi Lyrics -
Meri dushman hai yeh meri uljhan hai yeh
Bada tadapati hai dil tarsati hai yeh khidki
Khidki yeh khidki, yeh khidki jo bandh raheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai

Meri dushman hai yeh meri uljhan hai yeh
Bada tadapati hai dil tarsati hai yeh khidki
Khidki yeh khidki, yeh khidki jo bandh raheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai

Lagta hai mela na jaane kahan
Ashiq jama hotey hai yahan
Arey sabko pata hai yeh dastaan
Is ghar me hai ek ladki jawan
Ankhen jhuka ke guzro is gali se
Aane jaanewalon se kaheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai

Gham ki ghata hai ye chhat jayengi
Baaho se deewar pahat jayengi
Jab samne se ye hat jayengi
Ghunghat main gori simat jayengi
Ik roj khul jayengi tut ke ye kitani
Nazro ke tir sehati hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai

Aaye kabhi chaubharey main woh
Kuch sochey mere bharey main owh
Arey baaten karen jo ishare me woh
Baithi kadi chaubarey main woh
Us paar woh hai aur is paar main
Nadiya beech main baheti hai
Yeh khidki jo bandh raheti hai.

COMMENTS

BLOGGER: 5
Loading...
Name

अजय चक्रवर्ती,1,अनवर,1,अनीता,1,अनु मलिक,1,अनुराधा पौडवाल,2,अनूप जलोटा,1,अपनापन,1,अमर प्रेम,4,अमित कुमार,2,अमिताभ बच्चन,1,अल्का याग्निक,3,आ गले लग जा,2,आदित्य नारायण,1,आनंद बक्षी,3,आप की क़सम,1,आप बीती,1,आमने सामने,1,आराधना,7,आवारगी,1,आशा भोंसले,6,इश्क़ पर ज़ोर नहीं,1,उत्तम सिंह,5,उदित नारायण,7,उषा मंगेश्कर,1,एक दूजे के लिए,3,एस पी बालासुब्राह्मण्यम,1,कच्चे धागे,1,कटी पतंग,4,कर्मा,1,कल्याणजी-आनंदजी,8,कविता कृष्णमूर्ति,1,किशोर कुमार,25,कुमार शानू,1,कृष्णा बोस,1,गदर,5,ग़ुलाम अली,1,चाँदनी,1,चुपके-चुपके,1,जतिन-ललित,4,जब जब फूल खिले,1,जवानी दीवानी,1,जिगरी दोस्त,1,जीने की राह,1,जीवन गीत,15,जुआरी,1,जूली,2,ज्योति,1,डर,1,तेरे मेरे सपने,1,द ग्रेट गैम्बलर,1,द ट्रेन,1,दर्द भरे गीत,18,दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे,5,देवर,1,देश भक्ति गीत,4,दोस्त,1,नमक हराम,2,नसीब,1,नाम,1,नुसरत फ़तेह अली ख़ान,1,पंकज उधास,1,पति पत्नी और वो,1,परदेस,1,पिया का घर,1,पुष्पांजलि,1,प्रवीन सुल्ताना,1,प्रीति उत्तम सिंह,2,प्रेम गीत,46,प्रेरक गीत,1,फ़र्ज़,1,फूल बने अंगारे,2,बेताब,1,बॉबी,1,भक्ति गीत,2,मनप्रीत कौर,1,मनहर उधास,2,मन्ना डे,2,महाचोर,1,मि. एक्स इन बॉम्बे,1,मिलन,1,मुकेश,4,मुबारक बेग़म,1,मेहबूब की मेहंदी,1,मेहबूबा,1,मैं तुलसी तेरे आँगन की,3,मो० रफ़ी,14,मोहम्मद अज़ीज़,1,यश चोपड़ा,8,रवींद्र जैन,1,राकेश पंडित,1,राजा और रंक,1,राजेश रोशन,2,राहुल देव बर्मन,26,रेशमा,1,रोमांस,1,रोशन,1,लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल,27,लता मंगेश्कर,37,लम्हे,1,लव स्टोरी,1,लोरी,1,विजू शाह,1,विधाता,2,विनोद राठोड़,1,विरह गीत,5,विशाल भारद्वाज,1,शंकर महादेवन,1,शक्ति सामंत,1,शरद कुमार,1,शालीमार,1,शिव-हरि,3,शोले,1,श्याम घनश्याम,1,श्रीमान फंटूश,1,सचिन देव बर्मन,10,सत्यम् शिवम् सुन्दरम्,1,सनी,2,साधना सरगम,1,सुखविंदर सिंह,1,सुदेश भोंसले,1,सुभाष घई,2,सुमन कल्याणपूर,1,सुरेश वाडकर,2,हरिहरन,1,हरे रामा हरे कृष्णा,1,हंस राज हंस,1,हिन्द युग्म,2,हीरा पन्ना,1,हीरो,3,हेमा सरदेसाई,1,होली गीत,4,
ltr
item
Anand Bakshi Blog - Legendary Bollywood Lyricist: यह खिड़की जो बंद रहती है - मैं तुलसी तेरे आँगन की (१९७८)
यह खिड़की जो बंद रहती है - मैं तुलसी तेरे आँगन की (१९७८)
मेरी दुश्मन है ये मेरी उलझन है ये बड़ा तड़पाती है दिल को तरसाती है ये खिड़की जो बन्द रहती है मोहम्मद रफ़ी मैं तुलसी तेरे आँगन की लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
https://i.ytimg.com/vi/_FHFJveECm8/hqdefault.jpg
https://i.ytimg.com/vi/_FHFJveECm8/default.jpg
Anand Bakshi Blog - Legendary Bollywood Lyricist
https://www.anandbakshi.com/2015/08/ye-khidki-jo-band-rahti-hai-main-tulsi-tere-angan-ki.html
https://www.anandbakshi.com/
https://www.anandbakshi.com/
https://www.anandbakshi.com/2015/08/ye-khidki-jo-band-rahti-hai-main-tulsi-tere-angan-ki.html
true
7209966541405266147
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy